अनिरुद्ध जोशी

ज्योतिष, धर्म और योग के अलावा समसामयिक विषयों पर लेखन
उत्तररांचल प्रदेश में हरिद्वार अर्थात हरि का द्वार है। इसे गंगा द्वार और पुराणों में इसे मायापुरी क्षेत्र कहा जाता...
उत्तररांचल प्रदेश में हरिद्वार अर्थात हरि का द्वार है। इसे गंगा द्वार और पुराणों में इसे मायापुरी क्षेत्र कहा जाता...
हिमालय में आज भी हजारों ऐसे स्थान हैं जिनको देवी-देवताओं और तपस्वियों के रहने का स्थान माना गया है। हिमालय में जैन, बौद्ध...
लाल किताब का ज्योतिष परंपरागत ज्योतिष से थोड़ा भिन्न है। इसमें अंधराती कुंडली के बारे में भी विस्तार से बताया गया है।...
हर दिन माता की पूजा होती है परंतु देवियों की पूजा के लिए बुधवार और शुक्रवार खास दिन माने गए हैं। यदि आप किसी देवी की साधना...
भगवान गणेशजी के जन्म स्थान कौनसा है या कहां पर उनकी उत्पत्ति हुई थी। इस संबंध में कई तरह के मत मिलते हैं परंतु हम यहां...
मंगलवार का ग्रह मंगल ग्रह है। मंगलवार की प्रकृति उग्र है। यह भगवान हनुमान और मंगलदेव का दिन है। मान, सम्मान, पद प्रतिष्ठा,...
अनियमित जीवन शैली और सांसारिक भागमदौड़ के चलते से कई तरह के रोग, शोक और मानसिक त्रास पैदा हो जाते हैं। ऐसे में धीरे धीरे...
हिन्दू कैलेंडर का प्रथम माह है चैत्र और अंतिम है फाल्गुन। दोनों ही माह वसंत ऋतु में आते हैं। ईसाई माह अनुसार यह मार्च...
इस बार पौष माह के शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि को भौम प्रदोष व्रत है जो 26 जनवरी 2021 को है। हर महीने की दोनों पक्षों की त्रयोदशी...
हरिद्वार में हर बार 12 साल बाद कुंभ मेला लगता है, लेकिन इस बार यह मेला 11 साल बाद ही इसीलिए आयोजित हो रहा है क्योंकि साल 2022...
उत्तररांचल प्रदेश में गंगा के तट पर स्थित कुंभ नगरी हरिद्वार मायापुरी नाम से भी जानी जाती है। यह भारतवर्ष के सात पवित्र...
महाभारत काल में 16 महाजनपदों का उल्लेख मिलता है। महाभारत काल में प्रमुखरूप से 16 महाजनपद और लगभग 200 जनपद थे। 16 महाजनपदों...
हिमालय में कुछ ऐसी जगहें हैं जहां पर शून्य से 45 डीग्री से भी नीचे तापमान रहता है फिर भी वहां पर निर्वस्त्र रूप से रहकर...
वाल्मीकि रामायण, अरण्यकांड में पंचवटी का मनोहर वर्णन मिलता है। इसके अलावा पंचवटी का वर्णन 'रामचरितमानस', 'रामचन्द्रिका',...
भगवान शिव को वैसे तो किसी अस्त्र या शस्त्र की आवश्यकता नहीं है क्योंकि उनका तीसरा नेत्र ही एक अस्त्र के समान भी कार्य...
सिंहस्थ, कुंभ और महाकुभ में महिला नागा साधुओं को लेकर हमेशा से उत्सुकता बनी रही है। लोग यह जानने को बेचैन रहते हैं कि...
हमें विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश होने का गर्व है। हमारा लोकतंत्र धीरे-धीरे परिपक्व हो रहा है। हम पहले से कहीं...
प्राचीन काल में दो प्रकार के राज्य कहे गए हैं। एक राजाधीन और दूसरे गणधीन। इंद्र की अमरावती से लिच्छवियों की वैशाली...
अंग्रेजी इतिहास में डेमोक्रेसी शब्द सबसे पहली बार हिरोडोटस (Herodotus) नाम के ग्रीक व्यक्ति द्वार 5वीं सदी में उपयोग किया...