ऋतुपर्ण दवे

भारतीय बैंक घोटाले के सबसे बड़े घोटालेबाज मेहुल चैकसी और उसके भांजे नीरव मोदी पर 13, 578 करोड़ रुपयों की बैंक धोखाधड़ी के आरोप...
विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की 2018 की एक रिपोर्ट में जीका, इबोला और सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम यानी सार्स...
ताउ-ते तूफान के बाद खुले आसमान के नीचे रखे गेहूं के असमय हुई बारिश से भीगने और नालों, नालियों में तक बह जाने की तबाही भरी...
पिक्चर अभी बाकी है, द शो मस्ट गो ऑन.....! हिन्दी फिल्मों के मशहूर शो मैन राजकपूर के यह शब्द शायद उनसे भी ज्यादा पद्‌मश्री...
सच में आपदा के मौके पर भी अगर किसी की इंसानियत मर गई तो वह जीते जी मुर्दे से भी बदतर है। इससे बड़ा मौजूदा सवाल यह कि भरोसा...
आखिर में तो अदालतों ने भी हत्या के मुकदमें तक की चेतावनी दे दी। लेकिन देश चरणबध्द तरीके से हो रहे चुनावों खासकर बंगाल...
जब दोबारा इसने 18 वें दिन 22 अप्रेल को दूसरी सफल उड़ान भरी जो 51.9 सेकेण्ड में 16 फीट की ऊंचाई की थी तो विश्वास हो गया कि भविष्य...
अब इसे चाहे बहुरूपिया कहें, नया यूके वैरिएंट कहें, डबल म्यूटेशन वाला कहें या फिर सीधे शब्दों में इंसान की तासीर को भांप...
हिन्दू नव वर्ष का आरंभ चैत्र मास की शुक्ल प्रतिपदा को शक्ति-भक्ति की उपासना, चैत्र नवरात्रि से होता है। पंचाग रचना का...
कोरोनाग्रस्त इंसान बदहाल हो जाता है….पता है, फेफड़े धीरे-धीरे काम करना बन्द कर देते हैं… यह भी पता है, कोरोना पीड़ित...
दुनिया भर में प्रकृति और पर्यावरण को लेकर जितनी चिंता वैश्विक सगंठनों की बड़ी-बड़ी बैठकों में दिखती है, उतनी धरातल...
आलम कुछ ऐसा जैसे डरा, सहमा कोरोना खुद ही भारत को अलविदा कह गया..!! समूचे देश में निश्चिंतता ऐसी बनी जिसमें कोरोना को लेकर...
म प्रकृति को इतना मजबूर करते जा रहे हैं कि कहीं उसकी नेमत मजबूर हो बद्दुआ में न बदलने लगे. इशारों को भी समझने की कोशिश...
ममता बनर्जी जिस तरह से चोटिल हुई वह अपने आप में चर्चित हो सकता है लेकिन दूसरी पार्टियों ने तुरंत उनके स्वास्थ्य के सुधार...
दुनिया के कई देशों में पहले ही कोरोना की दूसरी और कहीं-कहीं इसके बाद की भी लहरें दिखने लगी हैं। भारत में भी विशेषज्ञ...
आज लिखते समय अहमदाबाद की आयशा का बनाया वीडियो बार-बार सामने कौंध रहा था। उसके आखिरी में कहे एक-एक शब्द सवालों की बौछार...
हकीकत भी यही है कि ‘दुनिया मेरी मुट्ठी में’ का असल सपना Internet ने ही पूरा किया। लेकिन अब बड़ा सच यह भी है कि इस सेवा का जरिया...
16 फरवरी की अल सुबह सवारियों से भरी तेज रफ्तार बस द्वारा नहर पर ही ट्रक को ओवरटेक करने की जल्दी में जरा सा संतुलन बिगड़ा...
अब इसे त्रासदी कहें या हादसा या फिर आप बुलाई आपदा जो भी, लेकिन सच यही है कि 2013 में भी इसी उत्तराखण्ड की केदरानाथ त्रासदी...
इस सब्सिडी के खत्म होने से लोकसभा सचिवालय को हर साल लगभग 8 से 10 करोड़ रुपये की बचत होगी। निश्चित रूप से तमाम सुविधाभोगी...