Short story : विनोदप्रिय नेहरूजी के जीवन की रोचक कहानी

एक बार एक बच्चे ने ऑटोग्राफ पुस्तिका नेहरूजी के सामने रखते हुए कहा- साइन कर दीजिए।
 
बच्चे ने ऑटोग्राफ देखे, देखकर नेहरूजी से कहा- आपने तारीख तो लिखी ही नहीं!
 
बच्चे की इस बात पर नेहरूजी ने उर्दू अंकों में तारीख डाल दी! बच्चे ने इसे देख कहा- यह तो उर्दू में है।
 
नेहरूजी ने कहा- भाई तुमने साइन अंगरेजी शब्द कहा- मैंने अंगरेजी में साइन कर दी, फिर तुमने तारीख उर्दू शब्द का प्रयोग किया, मैंने तारीख उर्दू में लिख दी।
 
यह था नेहरूजी का बच्चों के प्रति विनोदप्रियता का लहजा।

ALSO READ: Childrens Day essay : बाल दिवस पर हिन्दी में निबंध

ALSO READ: Jawahar lal Nehru Essay : पंडित जवाहरलाल नेहरू पर हिन्दी निबंध
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी