CM योगी और रावत बर्फबारी के कारण केदारनाथ में घंटों फंसे रहे, मंगलवार को जाएंगे बदरीनाथ

सोमवार, 16 नवंबर 2020 (20:48 IST)
देहरादून। केदारनाथ (Kedarnath) में बर्फबारी के कारण घंटों फंसे रहे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) और उत्तराखंड में उनके समकक्ष त्रिवेंद्र सिंह रावत  (Trivendra Singh Rawat) सोमवार शाम हेलीकॉप्टर से गौचर पहुंच गए, जहां से वे अब मंगलवार को बदरीनाथ (Badrinath) जाएंगे।
 
योगी और रावत बदरीनाथ मंदिर में दर्शन एवं पूजा करेंगे, जिसके बाद योगी बदरीनाथ में उत्तर प्रदेश का एक यात्री या अतिथि विश्रामालय के निर्माण का शिलान्यास करेंगे। पहले योगी और रावत का सोमवार सुबह केदारनाथ से सीधे बदरीनाथ जाने का कार्यक्रम था लेकिन रविवार रात से ही बिगड़े मौसम का मिजाज और बर्फबारी का सिलसिला दिन में भी जारी रहने के कारण वे घंटों तक केदारनाथ में ही फंसे रह गए।
 
हालांकि, सोमवार सुबह केदारनाथ धाम के कपाट बंद होने से पहले दोनों मुख्यमंत्रियों ने भगवान शिव के दर्शन किए और पूजा में भाग लिया।

बाद में योगी ने कहा, 'बहुत ही सुहावने और सुंदर मौसम में भगवान के दर्शन करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ है। ब्रहम मुहूर्त में ही पौने चार बजे से हम केदारनाथ मंदिर में पूजा में शामिल हो गए थे। प्रकृति भी भगवान भोले के स्वागत के लिए पलक पांवड़े बिछाकर अभिनंदन कर रही है।'
 
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रावत ने भी बर्फबारी को बाबा केदार का आशीर्वाद बताते हुए कहा कि बर्फ भगवान शिव के वस्त्र हैं और उनके छह माह के लिए समाधिस्थ होने के अवसर पर प्रकृति ने भी अपना पूरा आनंद बरसा दिया है।
उत्तराखंड में बारिश, बर्फबारी के बीच भूकंप के झटके, 2 की मौत : उत्तराखंड में पिछले लगभग 24 घण्टे में बारिश, बर्फबारी से मौसम सर्द हो गया। इसी बीच उत्तरकाशी जिले में भूकंप के झटके महसूस किए गए जबकि देहरादून जनपद में बिजली गिरने से 2 युवकों की मृत्यु हो गई।
 
राज्य आपदा परिचालन केंद्र और मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार ऊंचाई वाले पर्वतीय क्षेत्रों में देर रात्रि से ही हल्की से मध्यम बर्फवारी और रुक-रुक कर बारिश हो रही है जबकि अधिकांश मैदानी क्षेत्रों में बूंदाबांदी हो रही है। 
 
उत्तरकाशी जिले के आपदा परिचालन केंद्र प्रभारी डी.एस. पटवाल ने बताया कि डेल्टा द्वारा सभी तहसीलों से प्राप्त सूचना अनुसार तहसील बडकोट क्षेत्रान्तर्गत समय रात्रि 10:31 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए थे, जिसका केंद्र मातला वन क्षेत्र रहा। अभी तक कोई भवन, पशु तथा जनहानि की कोई सूचना नहीं है।
 
इसके अतिरिक्त, देहरादून जनपद अंतर्गत, रविवार रात बिजली गिरने से 2 युवकों लोगों की मौत हो गई। जबकि, एक युवक घायल हो गया। घायल युवक का इलाज चल रहा है। घटना रात नौ बजे के लगभग की है।
 
सहसपुर थाना क्षेत्र के शंकरपुर निवासी सागर (27) और अनुज चौहान (26) घर लौट रहे थे। इस दौरान बिजली गिरने से दोनों उसकी चपेट में आ गए। उन्हें हरबर्टपुर लेहमन अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। इस घटना में हेमंत शर्मा (28) को चोट आई है। उसका इलाज चल रहा है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी